आरती श्री शिव जी की

आरती श्री शिव जी की

आरती श्री शिव जी कीॐ जय शिव ओंकारा, प्रभु जय शिव ओंकारा।ब्रह्मा, विष्णु सदाशिव, अर्द्धागी धारा।। जय…एकानन, चतुरानन, पंचानन राजे।हंसानन, गरूड़ासन, वृषवाहन साजे।। जय…दो भुज चार चतुर्भुज, दस भुज ते सोहे।तीनों रूप रिरखते, त्रिभुवन जन मोहे।। जय…अक्षमाला, बनमाला, मुण्डमाला...