Spread the love

Memory :– यह दो प्रकार की होती है।

(1) Primary Memory

(2) Secondary Memory 

(1) Primary Memory :

RAM :- Random Access Memory.  ये अस्थाई (Virtual, Volatile) Memory है। 

ROM :- Read only Memory. यह स्थाई (Non-Virtual, Non-Volatile) Memory है।

(2) Secondary Memory:

(1) Floppy disk – इस पर एल्युमिनियम की परत चढ़ी होती है। इस पर 77 Track व 26 Sector होते हैं। यह दो Size की होती है। 

(i) 3.5 inch, 1.44 MB Storage. 

(ii) 5.25 inch, 1.2 MB Storage आजकल प्रचलन में नहीं है।

(2) Magnetic Tape – इस Storage Device पर डाटा स्टोर करने के लिए Iron Oxide की परत चढ़ी होती है। ये 1/2 inch मोटी व 2400 Feet लम्बी होती है। इस पर 18 crore characters आ सकते हैं।

(3) Hard Disk – इसकी क्षमता GB में होती है। इस पर एल्युमिनियम की परत चढ़ी होती है। 

(4) CD – Compact disk 

Network :- जब दो या दो से अधिक Computer आपस में जुड़े हों व डाटा का आदान प्रदान करें।

(i) LAN – Local Area Network छोटा स्थान like एक Building, इसकी रेंज 30 Meter तक होती है। 

(ii) MAN – Metro Area Network  दो शहरों के मध्य जुड़े Network को कहते हैं।

(iii) WAN – Wide Area Network यह एक बड़े भौगोलिक एरिया को जोड़ता है। जैसे – इंटरनेट 

Network Topology :

Network Topology

(i) Bus

(ii) Ring

(iii) Star

(iv) Tree

(v) Mesh 

Internet – इसे Network of Networks भी कहा जाता है।

इसका सर्वप्रथम प्रयोग Department of Defence ने किया था। इसका पुराना नाम ARPANET या Advanced Research Project Agency – network था जो 1969 में बना था। 

WWW – World Wide Web  : – इसका आविष्कार Tim Berner Lee ने 1982 में किया था।

Web Site – A Collection of Web pages.

Homepage – First page of any website is called the home page.

Data Communication Channel :

Data Communication Channel

(i) Twisted Pair Cable

(ii) Coaxial Cable

(iii) Fiber optics. 

Routers : दो LAN अथवा दो WAN प्रकार के कनेक्शन को जोड़ता है। 

Hub : LAN प्रकार के नेटवर्कों के बीच कार्य करता है तथा नेटवर्क को गति प्रदान करता है।

Bridge : दो LAN नेटवर्को के मध्य डेटा ट्रांसफर करता है। 

Gateways : दो विभिन्न प्रकार के नेटवर्को को जोड़ने का कार्य करता है। 

Repeaters : कमजोर सिंग्नल को Boost करना है। 

Transmission Modes : 

(i) Simplex : data Transfer only one direction जैसे टेलीविजन, रेडियो 

(ii) Half Duplex : data Transfer both direction but at a Time, One direction. जैसे – वॉकी टॉकी 

वॉकी टॉकी

(iii) Full Duplex : data Transfer Both direction at a Time जैसे टेलीफोन

ये भी पढ़ें